ब्रेकिंग
जाने माने हस्तियों को आज फिशरमैन आर्मी ट्रस्ट करेगा सम्मानितआप पार्टी के विधान सभा प्रभारी को जान से मारने की मिली धमकीथाना समाधान दिवस में आए छः मामलें, एक का निस्तारणटीएसआई ने स्टेडियम में मचाया तांडव, कोच समेत पांच घायलमानवाधिकार एवं महिला सुरक्षा ट्रस्ट के द्वारा सम्मानित हुए,सतीश त्रिपाठीकेयान इंडस्ट्रीज के द्वारा किया गया विशाल भंडारे का आयोजनपी पी ए के प्रदेश अध्यक्ष बने चंद्रभान तिवारी तो महासचिव बने उमाशंकर शुक्लानाव द्वारा नदी से अवैध बालू का धड़ल्ले से हो रहा है खनन, विभाग मौनशौचालय को लेकर हुआं विवाद तो सिंदूरिया थाने की पुलिस ने पात्र के खिलाफ लिखा मुकदमापत्रकार रोहित शुक्ल के जन्मदिन पर बधाईयों की लगी तांताकेएम अग्रवाल की रचनाधर्मिता अनुकरणीय: प्रो. जनार्दनयोग से होगा जीवन शैली में आवश्यक बदलाव: डॉ अजय पीजी कॉलेज में योग सप्ताह प्रारंभनगर अध्यक्ष द्वारा दिए गए नोटिस को अधिशासी अधिकारी बताती है प्रेम पत्र, उकसाने पर पंचायत कर्मियों ने दिया धरना, सड़कों पर बिखेरा कूड़ाउत्कर्ष ने एआईआर 319 रैंक हासिल कर किया सिटी टॉपकमलेश पासवान को केंद्र सरकार में मंत्री बनाए जाने पर फूटे पटाखे, बटी मिठाईयां*

उत्तरप्रदेशमहाराजगंज

मंदिर में हुए पुजारी और पुजारन हत्या का पुलिस ने किया,पर्दाफास, 

नौतनवा महराजगंज। परसामलिक थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम सभा महदेईया स्थित मंदिर में डबल मर्डर का पुलिस ने पर्दाफास किया गया है। इस हत्याकाण्ड में शामिल ने तीन नफर अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके पास से मृतका का मोबाइल सहित चोरी किये गये सामान बरामद किया है। यह खुलासा पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने पत्रकार वार्ता में की। उन्होंने बताया कि महदेईया मंदिर में साधू रामरतन एवं साध्वी कलावती की हत्या 18 नवम्बर को हुई थी। इस मामले में पांच टीम खुलासा के लिये लगायी गयी थी। 3 दिसम्बर को घटना का सफल अनावरण करते हुये घटना में शामिल तीन नफर अभियुक्तों को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

उन्होंने बताया कि घटना में शामिल अभियुक्त संतोष उर्फ सोनू विश्वकर्मा पुत्र जगरनाथ विश्वकर्मा निवासी कैथवलिया उर्फ बरगदही महराजगंज को प्राथमिक विद्यालय हरदी डाली से गिरफ्तार किया गया। जिसकी जामा तलाशी लेने पर उसके जेब से एक मोबाइल कार्बन कम्पनी व रंग काला/लाल की पैड के-9 एमएएक्स 9.0 मेगा बरामद हुआ। जो मृतका कलावती देवी का मोबाइल मौके से गायब हुआ था। उक्त मोबाइल सोनू के पास से बरामद हुआ।

पूछताछ में सोनू ने बताया कि रोहित मेरे बड़े भाई राजू का साढ़ू है जो मेरा मित्र है जो फरेन्दा कस्बा स्थित मुहल्ला निराला नगर में रहता है। उसके निशानदेही पर उसके घर दबिश देकर पकड़ा लिया। उसने बताया कि मेरा नाम रोहित विश्वकर्मा पुत्र उमाशंकर विश्वकर्मा निवासी निराला नगर वार्ड नं. 8 आनन्दनगर फरेन्दा थाना फरेन्दा है। उसने बताया कि इस समय मैं बेरोजगार हूं। इसी कारण इधर उधर घूमता रहता हूं। इसी दौरान मैं अपने ससुराल महदेईया स्थित टोला बकुलाहद भी आता जाता रहता था। मेरे ससुराल के ठीक उत्तर दिशा में स्थित बाग में एक मंदिर भी है। जिस पर टंगे घण्टों पर मेरी नजर काफी दिनों से थी। लालच में मैं घण्टों को चुराने की फिराकमें लगा हुआ था। इसी दौरान मेरे साढू राजू विश्वकर्मा निवासी ग्राम बरगदही थाना सोनौली के नवजात बालक की मृत्यु हो जाने के कारण सहानुभूति जताने मैं बरगदही गया था। जहां मेरी मुलाकात मेरे साढू के छोटे भाई सोनू उर्फ संतोष से हुई। मुलाकात के दौरान ही मैंने सोनू को महदेईया कुटी पर टंगे घण्टों/घण्टियों के बारे में बताया कि थोड़ी सी मेहनत में काफी पैसा मिल सकता है।

उसने बताया कि 18 नवम्बर को शाम लगभग 6 बजे हम दोनों लोग मेरी बाइक सुपर स्पेलेण्डर से बरगदही से चलकर महदेईया बकुलादह स्थित अपने ससुराल आये। हमने अपनी बाइक अपने ससुर शिवशंकर विश्वकर्मा के घर पर खड़ी कर नेपाली शराब अपने ससुर के मकान के बगल में स्थित बास की कोठी के पास पिये। शराब पीने के बाद मैं और सोनू बनायी गयी योजना के अनुसार पैदल ही महेदईया कुटी पर पहुंच कर मंदिर के पास पुवाल में छिपकर आहट लेते रहे।

काफी देर बाद जब हम दोनों को लागा  कि साधू व सधुवाईन सो गये है। मैं और सोनू मंदिर में लगे घण्टों को लूटने का प्रयास करने लगी। इसी बीच सधुवाईन जग गयी और हम लोगों को कौन हो कौन हो कि आवाज देने लगी कि उसी समय बाबा भी जग गये और लाठी लेकर हम दोनों की तरफ मारने के लिये आगे बढ़े। हम दोनों  ने बाबा से लड़ गये और बाबा की लाठी छिन कर उनके सिर पर मारने लगे। बाबा जमीन पर गिर गये। सधुवाईन भी मौके पर ही लाठी के प्रहार से मौके पर गिर गयी। दोनों लोग जमीन पर गिर कर छटपटाने लगे तो हम दोनों उनको घसीट कर कुछ दूर ले जाकर रख दिये।

मंदिर के चबुतरे पर रखी एक छोटी हाथी की मूर्ति को उठाकर बाबा के सिर पर पटक दिये और विश्वास कर लिये की दोनों मर गये है तो हम लोग मंदिर से घण्टा व सधुवाईजन के कमरे के बक्से से पैसा लूटकर चले गये। सुबह हम दोनों लूटे हुये घण्टों को नौतनवा बाजार के बर्तन दुकानदार मिठ्ठू कौशल जो हम लोगों की जान पहचान का है जिसकी दुकान बर्तन गली नौतनवा में स्थित है जिसे हम दोनों ने तीन सौ रूपये प्रति किलो के हिसाब से बेचे थे। कुल 45सौ  रूपया मिला था। लूटे हुये माल के पैसों व मोबाइल को हम दोनों आपस में बाट लिये थे।

दोनों अभियुक्तों को पुलिस ने हिरासत में लेकर उनके निशानदेही पर मिठ्ठू कौशल पुत्र केसरी प्रसाद निवासी बर्तन गली नौतनवा के दुकान से चोरी का बेचा हुआ कुल 13अदद छोटे/बड़े पीतल/पीले धातु की घण्टे बरामद किया गया। दोनों अभियुक्तों के पास से क्रमश: 1250, 1000 कुल 2250 रूपया नगद बरामद हुआ।

पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 139/2021 धारा 302 भादवि एवं बढोत्तरी धारा 34, 394, 411 के तहत तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया।

गिरफ्तारी एवं बरामदगी करने वाली पुलिस टीम में  प्रभारी निरीक्षक गोरखनाथ सरोज थाना परसामलिक, प्रभारी निरीक्षक शशांक शेखर राय थाना सोनौली, एसओजी प्रभारी निरीक्षक रामाशीष यादव, सर्विलांस सेल प्रभारी उपनिरीक्षक अनध कुमार, उपनिरीक्षक मनोज कुमार यादव, एसओजी हेड कांस्टेबल संजय कुमार सिंह, हेड कांस्टेबल विपेन्द्र मल्ल, हेड कांस्टेबल रामभरोस यादव, हेड कांस्टेबल विद्यासागर, वीनित कुमार, धनन्जय सिंह, अजय यादव, चन्द्रशेखर यादव, शैलेन्द्र त्रिपाठी शामिल रहे !

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!