ब्रेकिंग
पीजी कॉलेज में नियंता मंडल की बैठक परिचय पत्र और ड्रेस कोड में ही मिलेगा प्रवेशयोगीराज में भाई की हत्या के मामले में न्याय की आस लगाए दर-दर भटक रहा रवि“हरा भरा हो गीडा अपना” यही है केयान इंडस्ट्रीज का सपनाविदेश कमाने गए पति पर खर्च न देने का पत्नी ने लगाया आरोप।चार दुकानों का ताला तोड़ चोरी से क्षेत्र में मचा हड़कंप।एसपी ने बृजमनगंज थाना का किया औचक निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश।नीजी अस्पताल मे प्रसव के दौरान महिला की मौत संचालक फरारपूर्व चेयरमैन व ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि ने मुख्यमंत्री से भेंट कर विकास कार्यों पर की चर्चाडिजिटल भारत के विकास में टैबलेट की भूमिका महत्वपूर्ण: जयमंगलपीजी कॉलेज में कक्षाएं 18 जुलाई से होगी शुरू218 छात्रों को स्मार्टफोन वितरित,स्मार्ट फोन पाकर बच्चो के खिले चेहरेएसडीएम व तहसीलदार फरेंदा ने बृजमनगंज क्षेत्र क्षेत्र में बाढ़ से प्रभावित गांव, और बंधा का किया निरीक्षण।नेपाल नदी में गिरी दो बसें सात भारतीय की मौत 60 लापताअवैध रूप भारत में घुसपैठ करते जर्मनी नागरिक गिरफ्तारमोहर्रम पर्व को लेकर थानेदार ने ताजियादारों के संग की बैठक।

उत्तरप्रदेशगोरखपुर

छठ पर व्रती महिलाओं ने राप्ती नदी रामघाट व पोखर पर के घाटों पर उगते सूर्य की आराधना किया.

एडीजी जोन डीआईजी एसएसपी डीएम एसपी सिटी सुरक्षा व्यवस्था का बराबर कर रहे थे निगरानी

यातायात व्यवस्था की पुख्ता इंतजाम किया गया था

गोरखपुर। आस्था के महापर्व छठ पर्व छठ व्रती महिलाओं ने राजघाट राप्ती नदी रामघाट भीम सरोवर मानसरोवर जटाशंकर सूर्यकुंड डोमिनगढ़ महेशरा मीरपुर राप्ती नदी सहित छोटे बड़े जनपद के 390 तालाबों व नदियों के घाटों पर छठ व्रती महिलाओं ने उगते हुए सूर्य को अर्द्ध दे कर 36 घंटे के व्रत का समापन किया। बृहस्पतिवार की सुबह आस्‍था उमड़ पड़ी छठ पर उगते सूर्य को व्रती महिलाओं ने अर्घ्‍य देकर पूजन-अर्चन किया। इसी के साथ छठ व्रत का समापन हुआ। इस दौरान घाटों पर मेले जैसा माहौल रहा भोर की ठंड के बाद भी आस्‍था में कहीं भी कमी नहीं दिखी डीजे के धुन पर छोटे बच्चों बड़े झूमते नजर आए
घाटों पर सूर्य के उगने का इंतजार व्रती महिलाएं कर रही थीं। ज्‍यों ही सूर्यदेव का दर्शन हुआ राजघाट राप्ती नदी रामघाट भीम सरोवर मानसरोवर जटाशंकर सूर्य कुंड डोमिनगढ़ महेशरा मीरपुर राप्ती नदी सहित जनपद के छोटे बड़े 390 नदियों तालाबो व पोखरों के जल में खड़े होकर उन्‍हें अर्घ्‍य दिया और पूजन-अर्चन किया। घाटों पर छठ मइया, गंगा मइया और सूर्य देव की जयकार होने लगी। सभी में उत्‍साह का आलम था। पूजन-अर्चन के बाद व्रती महिलाओं के व्रत का समापन हुआ। इसके बाद घर पहुंचकर उन्‍होंने व्रत का पारण किया।
बता दें कि छठ पर खरना के साथ ही सोमवार से निर्जला व्रत की शुरूआत हुई थी। यह व्रत 36 घंटे का था। पूजन और अर्चन के लिए राप्ती नदी के रामघाट गोरखनाथ मंदिर भीम सरोवर मानसरोवर जटाशंकर सूर्य कुंड महेश्वरा डोमिनगढ़ मीरपुर सहित जनपद के 390 छोटे बड़े नदी नहर व तालाबों शहर के साथ ही ग्रामीण अंचल में भी नहर और पोखरों के पानी में खड़ी होकर व्रती महिलाओं ने उगते सूर्य की आराधना की। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताडा छठ व्रती महिलाओं को किसी प्रकार का घाट पर दिक्कत ना होने पाए पर्याप्त मात्रा में शादी वर्दी में महिला व पुरुष सिपाहियों व उपनिरीक्षक को डियूटी पर लगा रखा था साथ में सीओ व एडिशनल एसपी को नियुक्त कर रखा था जो अपने अपने ड्यूटी लगाए हुए स्थानों पर भ्रमण सील रहते हुए सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे थे जिससे 390 सहित अन्य छोटे बड़े घाटों पर सकुशल छठ व्रत का समापन हुआ। एडीजी अखिल कुमार डीआईजी गोरखपुर परीक्षेत्र गोरखपुर जे रविंद्र गौड़ जिला अधिकारी विजय किरन आनंद स्वयं निगरानी पर लगे रहें और पूरा प्रशासन अमला को लगा रखा था कि किसी छठ व्रती महिलाओं को किसी प्रकार की असुविधा ना होने पाए।यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित करने के लिए ट्रैफिक पुलिस को जगह जगह लगाया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!