ब्रेकिंग
एमआरएफ सेंटर का तहसीलदार कर्ण सिंह ने किया निरीक्षणथाना समाधान दिवस में रास्ते के विवाद का हुआ निस्तारण।*बांसगांव में हुआ स्वास्थ्य शिविर का आयोजन*डालमिया सीमेंट ने होम बिल्डर्स पर बढ़ाया फोकसभारी वाहनों के कस्बे में प्रवेश रोकने के लिए विकास मंच ने यस डी यम को सौप ज्ञापन।*विधायक ने किया सीसी रोड का लोकार्पणबांसगांव में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलजनपद के कलेक्ट्रेट सभागार सहित सभी विधानसभा क्षेत्रों में ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन सम्पन्नविधायक व उपजिलाधिकारी ने किया 50 बेड हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण*जनप्रतिनिधियों ने लाइव देखा ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी*अयोध्या शूटिंग चैंपियनशिप में प्रियांशु ने जीता पदक, बधाइयों का लगा तांता*चेयरमैन प्रतिनिधि ने अस्थाई पुल का निर्माण कार्य शुरू कराया**उनवल ने डड़वा को हराकर जीता फाइनल मैच*चार पहिया वाहन की ठोकर से मोटरसाईकिल सवार की दर्दनाक मौत।डांसिंग एक प्रतिभा के साथ योग का भी माध्यम,अमित अंजन

उत्तरप्रदेशगोरखपुर

लेखपाल बना आईएएस अधिकारी

8 बहनों से छोटा भाई बना आईएएस अधिकारी

*आईएएस बनने का श्रेय अपने माता-पिता भाई व ज्वाइंट मजिस्ट्रेट कुलदीप मीना व ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सुमित महाजन को दिया लेखपाल आईएएस अधिकारी*

पवन कुमार ndtv24.In

गोरखपुर।जीवन में तरक्की करने की अगर परिभाषा दी जाए तो वो परिभाषा होगी आप जहाँ हैं वर्तमान में वहाँ से कम से कम एक कदम आगे बढ़ जाएं असल में सफलता भी इसी को कहते हैं। एक ऐसी ही तरक्की की मिसाल हैं सदर तहसील में तैनात 2016 बैच के लेखपाल केदारनाथ शुक्ला नवोदय विद्यालय  पीपीगंज से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त कर बैचलर ऑफ आर्ट इग्नू से कर 2016 में लेखपाल की परीक्षा उत्तीर्ण कर सदर तहसील  में अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए देश की सेवा करने की इच्छा रखते हुए अपनी पढ़ाई जारी रखें ज्वाइंट मजिस्ट्रेट /एसडीएम सदर कुलदीप मीना से लेखपाल केदारनाथ शुक्ला इच्छा जाहिर किया ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने लेखपाल के इच्छाओं को ध्यान में रखते हुए पूरे 1 वर्ष से केदारनाथ शुक्ला को छुट्टी दे रखा था कि अपनी आईएएस की तैयारी जारी रखें आज केदारनाथ शुक्ला ने वह कर दिखाया आईएएस बनकर जो गोरखपुर जनपद का मान सम्मान बढ़ाते हुए सदर तहसील का मान सम्मान बढ़ाकर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सहित तहसील कर्मचारियों का मान सम्मान बढ़ाकर सदर तहसील के सभी  कर्मचारियों में एक उत्साह बढ़ा दिया है तहसील कर्मचारियों में एक उत्साह बड़ा है कि हमारे बीच का लेखपाल आईएएस अधिकारी होकर देश की सेवा करेगा और आगे चलकर हम लेखपालों की आवाज बुलंद करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा केदारनाथ शुक्ला किसान ओमकार नाथ शुक्ला  माता कालिंदी देवी के 9 बच्चों में इकलौते पुत्र और 8 पुत्रियां मीनू ममता मीनू प्रीति इंदु बबीता क्षमा प्रिया में सबसे छोटे केदारनाथ शुक्ला अपने ग्राम सुगौना थाना हरपुर बुदहट गोरखपुर का नाम रोशन कर  आईएएस अधिकारी होने का श्रेय अपने माता-पिता भाई के अलावा ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर कुलदीप मीना ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सुमित महाजन को दिया है केदारनाथ शुक्ला ने बताया कि अगर जॉइंट साहब हमें 1 वर्षों से पढ़ाई के लिए छुट्टी नहीं देते तो आज हम यह मुकाम हासिल नहीं कर पाते हैं उन्हीं की देन है कि आज हम आईएएस अधिकारी बनने में कामयाब हुए हैं। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने अपने परिणाम घोषित किये और इस परिणाम में वरीयता क्रम में 465 नंबर पर एक नाम था केदारनाथ शुक्ला का।  रैंक मायने नहीं रखती वहाँ जहां केवल चुना जाना ही टॉप कर जाने के बराबर होता है। यूपीएससी का रास्ता इतना कठिन है कि हर कोई इस रास्ते पर चल नहीं सकता लेकिन अपने परिश्रम , लगन , एकाग्रता और दृढ़ता के बलबूते केदार इन राह पर चले भी और लक्ष्य तक पहुँचे भी। केदारनाथ शुक्ला एक बड़े ही साधारण परिवार से हैं और इसपर मोहर इस बात से लग जाती है कि इनके पिता एक सामान्य किसान हैं। माता कालिंदी घर गृहस्ती का कार्य करने वाले सुपुत्र  लेखपाल की
नौकरी करते हुए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करना आसान नहीं है। केदारनाथ नौकरी के साथ साथ इस कठिन परीक्षा की तैयारी भी करते रहे और स्वयं का निर्माण कुछ इस तरह किया कि परिणाम आज सामने है। जहाँ आज सरकारी नौकरी का अकाल पड़ा है छोटे से छोटे पदों पर भर्ती के लिए योग्य से योग्य अभ्यर्थी भी लाइन में हैं वहीं सरकारी नौकरी करते हुए भी केदारनाथ में इच्छाशक्ति कम नहीं हुई और न ही ये रुके जिसका परिणाम ही आज सबके सामने हैं।केदारनाथ की सफलता यह भी साबित करती हैं कि आपका बैक ग्राउंड , आपका दायित्व कभी आपके लक्ष्य के बीच नही आता है साथ ही आप किस बोर्ड से पढ़े हैं कोचिंग की है या नही यह भी मायने नही रखता है। कुछ कर गुजरने की दृढ़ इच्छा शक्ति होनी चाहिए लेखपाल केदारनाथ शुक्ला के आईएएस अधिकारी होने पर जिलाधिकारी विजय किरन आनंद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट  एसडीएम सदर कुलदीप मीना सदर तहसील दार वीरेंद्र कुमार गुप्ता नायब तहसीलदार विकास लेखपाल दिनेश पंकज विनय श्रीवास्तव सही से समस्त लेखपालों ने केदारनाथ शुक्ला को बधाई दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!