ब्रेकिंग
सभासद सहित 22 लोगों ने ली भाजपा की सदस्यतालेहड़ा मार्ग दुघर्टना में दस वर्षीय बालक घायल।एमआरएफ सेंटर का तहसीलदार कर्ण सिंह ने किया निरीक्षणथाना समाधान दिवस में रास्ते के विवाद का हुआ निस्तारण।*बांसगांव में हुआ स्वास्थ्य शिविर का आयोजन*डालमिया सीमेंट ने होम बिल्डर्स पर बढ़ाया फोकसभारी वाहनों के कस्बे में प्रवेश रोकने के लिए विकास मंच ने यस डी यम को सौप ज्ञापन।*विधायक ने किया सीसी रोड का लोकार्पणबांसगांव में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलजनपद के कलेक्ट्रेट सभागार सहित सभी विधानसभा क्षेत्रों में ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन सम्पन्नविधायक व उपजिलाधिकारी ने किया 50 बेड हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण*जनप्रतिनिधियों ने लाइव देखा ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी*अयोध्या शूटिंग चैंपियनशिप में प्रियांशु ने जीता पदक, बधाइयों का लगा तांता*चेयरमैन प्रतिनिधि ने अस्थाई पुल का निर्माण कार्य शुरू कराया**उनवल ने डड़वा को हराकर जीता फाइनल मैच*

कुशीनगर

नारी प्रधान देश में यहां चंद रुपयों में बिकती हैं जिस्म,

(शोएब रिजवान)
कुशीनगर

कुशीनगर जिले में आजकल जिस्मफरोशी का धंधा चरम सीमा पर है। आखिर यह देह व्यापार किसके संरक्षण में चल रहा है?
क्या प्रशासन के मिलीभगत से यह धंधा फल फूल रहा है?
बताते चलें कि कुशीनगर जनपद के कसया तहसील में स्थित नेशनल हाईवे के किनारे तमाम ऐसे गेस्ट हाउस बने हुए हैं जिसमें जिस्मफरोशी का धंधा तेजी से हो रहा है।
उक्त जिस्मफरोशी धंधा के बारे में हमारे रिपोर्टर ने जब कुशीनगर जिले में दस्तक दी तब उसे एहसास हुआ कि जिस्मफरोशी का धंधा पुलिसकर्मियों के संरक्षण में चलाया जाता है।
जहाँ एक- दो ही नही देखा जाए तो एनएच 28 के किनारे बहुत सारे मकानों में गेस्ट हाउस, रेस्टोरेंट फ्लेक्स बोर्ड लगाकर आड़ में जिस्मफरोशी के धंधे को वारदात दिया जाता है।

पहला मामला एनएच 28 अलशिफा हॉस्पिटल के पास स्थित राज रेस्टोरेंट का है, जहां पर रमेश गुप्ता नामक युवक द्वारा धड़ल्ले से महिलाओं के साथ साथ लड़कियों से देह व्यापार का धंधा चलाया जाता है।
संचालक रमेश गुप्ता के छोटे भाई द्वारा रिपोर्टर को बताया जाता है कि पैसा जमा करके आप अंदर लड़की से मिलने जाइए, पुलिस से डरने की आवश्यकता नहीं है यहां पर एसएचओ के ड्राइवर,चौकी, क्राइम ब्रांच, एस पी ऑफिस को पैसा भेजा जाता है डरने की कोई बात नहीं है। तभी उस जगह पर एसएचओ कसया का ड्राइवर पैसे लेने भी आ जाता है। जिससे रमेश गुप्ता के साथ-साथ उसके भाई का मनोबल बढ़ा हुआ है जहां तेजी से यह जिस्मफरोशी का धंधा चलाया जा रहा है।

दूसरा मामला कसया के ही लारी पेट्रोल पंप के सामने गली में स्थित आर.के होटल का है।
जहां पर एक युवक द्वारा रिपोर्टर को लड़कियों के बारे में हर प्रकार के रेट एवं लड़कियां कहां से आती हैं ऐसा सूचना बताते हुए वीडियो वायरल हो रहा है।
जहां होटल के कर्मचारी युवक द्वारा रिपोर्टर को बताया जाता है कि आप आने में देरी कर दिए हैं 2:00 से 3:00 बजे तक ही या धंधा चलता है उसके बाद बंद कर दिया जाता है।
आपको लड़की या औरत से मिलने के लिए समय से पहले 10 और 2 के बीच आ जाइए तो मिलवा सकता हूं, यह कहते हुए होटल कर्मचारी युवक द्वारा लड़की उपलब्ध कराने वाले डीलर का नंबर देता है जहां पर डीलर कहता है कि और पहले आइए मैं व्यवस्था कर दूंगा लड़कियों की।

तीसरा मामला हेतिमपुर और पकवा इनार के बीच में स्थित भैंसहा का है।
जहां कथित गेस्ट हाउस मकान में पथल सिंह नामक युवक द्वारा जिस्मफरोशी का धंधा उस गेस्ट हाउस में धड़ल्ले से चलाता है।

रिपोर्टर अंदर जाकर देखा तो उसकी आंखें सन्न रह गई।
अंदर एक लड़की जिसकी कीमत पथल सिंह 1000 से 1200 के बीच बताता है।
और उस लड़की से मिलने के बाद करता है जबकि रिपोर्टर ने पथल सिंह से पूछा कि थाना की पुलिस अगर आ गई तो तो उसका जवाब था कि निसंकोच आप अंदर जाइए इसका टेंशन छोड़ दीजिए।

चौथा मामला कुशीनगर बुद्ध मंदिर के बगल का है।
यहां भगवान बुद्ध के धरती पर ही पर शांति की जगह कुछ दरिंदे अशांति फैला रहे हैं।
कुशीनगर के लिंसन स्कूल के सामने वाले चकरोड पर पारस गुप्ता नामक बृद्ध व्यक्ति जो अपने मकान में ही
देवरिया, कुशीनगर, गोरखपुर की लड़कियों को अपने दाहिना हाथ परसौनी खुर्द(गोसाईं टोला) निवासी ओमप्रकाश गिरि के साथ मिलकर जिस्मफरोशी धंधे को तेजी तरीके से संचालित करते हैं। यहां पर किसी की भी नहीं चलती है, थाना हो या पुलिस इनके मुट्ठी में रहता है।

बताते चलें कि इस प्रकरण में बीते जिला पंचायत सदस्य चुनाव में सीओ कसया से देह व्यापार मामले में कार्रवाई करने के लिए बात की गई थी लेकिन उनके करवाई करने के आश्वासन पर पानी फिरता नजर आ रहा है।
यह एक चिंता का विषय बना हुआ है कि नारी प्रधान देश में नारियों के जिस्म को बेचकर देहव्यापार करने वाले इन दरिंदों को कौन बचा रहा है?

क्या कुशीनगर जिले में ऐसे देह व्यापार का सिलसिला चलता रहेगा या इस पर अंकुश भी लगाए जा सकेगा?

क्या तेजी से पैर पसार रहे जिस्मफरोशी का धंधा उच्च अधिकारियों की मिलीभगत से चल रही है?

क्या तेजतर्रार डीएम, एसडीएम बोरा,एसपी कुशीनगर तेजी से फैल रहे इस जिस्मफरोशी के धंधे पर रोक लगा पाएंगे? इन अधिकारियों से महिला प्रधान देश में कुछ महिलाओं का सवाल है कि अखिर कब तक बहला फुसलाकर नारियों के साथ घिनौने कृत्य किये जायेंगे। अगर इस पर घिनौने कृत्य पर ठोस कार्रवाई नहीं की गई तो मजबूरन एक विशाल आंदोलन करने को बाध्य होंगे, जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन एवं जिला प्रशासन की होगी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!