ब्रेकिंग
भारी वाहनों के कस्बे में प्रवेश रोकने के लिए विकास मंच ने यस डी यम को सौप ज्ञापन।*विधायक ने किया सीसी रोड का लोकार्पणबांसगांव में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलजनपद के कलेक्ट्रेट सभागार सहित सभी विधानसभा क्षेत्रों में ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन सम्पन्नविधायक व उपजिलाधिकारी ने किया 50 बेड हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण*जनप्रतिनिधियों ने लाइव देखा ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी*अयोध्या शूटिंग चैंपियनशिप में प्रियांशु ने जीता पदक, बधाइयों का लगा तांता*चेयरमैन प्रतिनिधि ने अस्थाई पुल का निर्माण कार्य शुरू कराया**उनवल ने डड़वा को हराकर जीता फाइनल मैच*चार पहिया वाहन की ठोकर से मोटरसाईकिल सवार की दर्दनाक मौत।डांसिंग एक प्रतिभा के साथ योग का भी माध्यम,अमित अंजनबृजमनगंज पुलिस की अवैध शराब के विरुद्ध बड़ी कारवाई, दो शराब कारोबारियों को दो सौ लीटर अवैध शराब के साथ पकडा,खोई हुई मोबाइल को पुलिस ने दो घण्टे में बरामद कर लौटाया।जनपद के विकास में एक बड़ी उपलब्धि अत्याधुनिक ऑडिटोरियम बनेगा वित्तीय स्वीकृति शासन द्वारा मंजूरजनपद मे भारत नेपाल मैत्री महोत्सवआज से शुरू

संतकबीर नगर

अवैध संबंध के शक में सनकी रिटायर फौजी ने बहू सहित चार लोगों को काटा

मासूम बच्चियों को भी नहीं छोड़ा, एक की मौत दूसरी की हालत गंभीर

वारदात के बाद खुद थाने पहुंचकर किया सरेंडर

गुरुग्राम। हरियाणा के गुरुग्राम में राजेंद्र पार्क इलाके में घटी सनसनीखेज घटना में शक के चलते रिटायर फौजी ने चार लोगों की धारदार हथियार से हत्या कर दी तथा एक बच्ची को गंभीर रूप से घायल करने के बाद खुद पुलिस थाने जाकर सरेंडर कर दिया। पुलिस के अनुसार रिटायर फौजी ने 4 लोगों को मौत को घाट उतार दिया, वहीं 3 साल की एक बच्ची अभी जिंदगी और मौत से जूझ रही है।
ये वारदात गुरुग्राम के राजेंद्र पार्क इलाके में सोमवार की देर रात करीब 2 बजे से शुरू हुई। बताया जा रहा है कि आरोपी रिटायर्ड फौजी ने रात 2 बजे से लेकर तड़के 5 बजे तक घटना को अंजाम दिया। आरोपी घर में ही एक के बाद एक लोगों को काटता रहा। पुलिस के अनुसार हत्याएं करने के बाद मंगलवार सुबह साढ़े 5 बजे राय सिंह नामक रिटायर्ड फौजी थाने पहुंचा और थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों के सामने उसने वारदात की जानकारी दी, जिसे जानकर पुलिस चौंक गई। उसने बताया कि 5 लोगों को मारकर वो थाने में सरेंडर करना आया है।
घर के बाहर गेट तक बिखरा हुआ था‌ हर ओर खून…..
ये जानकारी मिलते ही पुलिस की एक टीम तुरंत रिटायर्ड फौजी राय सिंह के घर राजेंद्र पार्क इलाक़े में पहुंची। पुलिस जब घर के एंट्री गेट पर पहुंची तो खून बिखरा पड़ा था। पुलिस की टीम खून के धब्बों को देखते हुए ग्राउंड फ्लोर के एक कमरे में पहुंची, जहां बहू सुनीता यादव (32 वर्ष) की लाश पड़ी थी। इसके बाद पुलिस पहली मंजिल पर पहुंचीं, वहां जांच के दौरान पता चला कि आरोपी फौजी उस कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुआ था‌। पहली मंजिल पर कमरे में फर्श पर कृष्ण तिवारी (45 वर्ष) की लाश पड़ीं थी, कृष्ण तिवारी के गले के अलावा पूरे शरीर पर तेज धारदार हथियार से कई वार किए गए थे। कमरे में बेड पर कृष्ण की पत्नी अनामिका (38 वर्ष) की लाश पड़ी थी, उसे भी ठीक उसी तरह मारा गया था जैसे उसके पति को मारा गया था। कमरे के दूसरी तरफ फर्श पर कृष्ण तिवारी की 9 साल की बेटी सुरभि और 3 साल की बेटी विधि दोनों लहूलुहान पड़ी हुई थी। पुलिस ने देखा कि सुरभि की सांसे तो थम चुकी थीं लेकिन विधि की सांस चल रही थी, पुलिस ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया।
किरायेदार और बहू के बीच था अवैध संबंध का शक..
पुलिस की जाँच में सामने आया है कि कृष्ण तिवारी अपने परिवार के साथ रिटायर फौजी राय सिंह के यहाँ किराए पर रहता था। राय सिंह को शक था कि उसकी बहू का किरायेदार कृष्ण तिवारी से अवैध संबंध है,‌बस इसी शक पर उसने इस दिल दहलाने वाली वारदात को अंजाम दिया। गुरुग्राम के एसीपी राजीव कुमार का कहना है कि पुलिस हर एंगल से मामले की जाँच कर रही है। पुलिस को शक है कि जरूर इसमें राय सिंह के अलावा कोई और भी शामिल है। कृष्ण कुमार बिहार के सिवान का रहने वाला था गुरुग्राम में एक बैंक में सेल्स मैनेजर का काम करता फिलहाल उसने कुछ दिन पहले नौकरी छोड़ दी थी और दूसरी नौकरी कि तलाश में था।
मौत से संघर्ष जारी है मासूम 3 वर्षीय विधि‌ का…..
किरायेदार कृष्ण तिवारी की तीन वर्षीय छोटी बेटी विधि तिवारी की सांसें चलती रहीं। उसे पहले सेक्टर 10 के सिविल हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया, लेकिन हालत में सुधार नहीं होता देख डॉक्टरों ने उसे सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया। बच्ची वहां जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।
खुद पुलिस को बताया अपना कारनामा. . . . .
उधर, बर्बरता की हदें पार करके सनकी राव साहब खुद ही पुलिस के पास चला गया। उसने थाना राजेंद्र पार्क में जाकर पुलिस को अपनी हैवानियत की पूरी बात बताई। उसने पुलिस के सामने कबूल किया कि उसने एक साथ अपने किरायेदार और बहू को ही मौत के घाट उतार दिया है। उस हैवान के कबूलनामे से पुलिस वाले भी सन्न रह गए। पुलिस के अनुसार राय सिंह के पुत्र आनंद यादव गुरुग्राम की जिला अदालत में वकील हैं। वारदात के समय वे कुछ लोगों के साथ राजस्थान के खाटू श्याम मंदिर में दर्शन के लिए गए थे। उन्हे फोन पर सूचना दी गई है। आनंद, उनकी मां व बेटी वारदात के संबंध में कुछ बताने की हालत में नहीं हैं। छह माह से पुत्रवधू सुनीता मायके में रह रही थी, तीन दिन पहले ही वह घर लौटी थी।
पुलिस ने एक महिला को हिरासत में लिया है, जिस पर आरोपी राव साहब का इस वारदात में साथ दिए जाने का संदेह है। पुलिस उससे लगातार पूछताछ कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!