ब्रेकिंग
आलमाइटी पी.जी. कालेज बृजमनगंज में स्मार्ट फोन पाकर खिले छात्र -छात्राओं के चेहरेमहाराजगंज से पंकज चौधरी को भाजपा का टिकट, लगातार नौवीं बार बनाए गए महाराजगंज लोकसभा के भाजपा प्रत्याशीसभासद सहित 22 लोगों ने ली भाजपा की सदस्यतालेहड़ा मार्ग दुघर्टना में दस वर्षीय बालक घायल।एमआरएफ सेंटर का तहसीलदार कर्ण सिंह ने किया निरीक्षणथाना समाधान दिवस में रास्ते के विवाद का हुआ निस्तारण।*बांसगांव में हुआ स्वास्थ्य शिविर का आयोजन*डालमिया सीमेंट ने होम बिल्डर्स पर बढ़ाया फोकसभारी वाहनों के कस्बे में प्रवेश रोकने के लिए विकास मंच ने यस डी यम को सौप ज्ञापन।*विधायक ने किया सीसी रोड का लोकार्पणबांसगांव में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलजनपद के कलेक्ट्रेट सभागार सहित सभी विधानसभा क्षेत्रों में ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का आयोजन सम्पन्नविधायक व उपजिलाधिकारी ने किया 50 बेड हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण*जनप्रतिनिधियों ने लाइव देखा ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी*अयोध्या शूटिंग चैंपियनशिप में प्रियांशु ने जीता पदक, बधाइयों का लगा तांता*

संतकबीर नगर

अवैध निर्माण व संचालन पर विकास प्राधिकरण के माफिया हावी

अध्यक्ष विकास प्राधिकरण मूक दर्शक

गोरखपुर। गोरखपुर विकास प्राधिकरण के माफियाओं द्वारा कराए जा रहे अवैध निर्माण व संचालन ने  जिला प्रशासन को पंगु बना दिया गया है और अवैध निर्माण व संचालन का धंधा जोरों पर है। जिसके विरुद्ध तीसरी आंख मानवाधिकार संगठन द्वारा 52 दिनों से क्रमिक धरना अध्यक्ष विकास प्राधिकरण/मंडलायुक्त गोरखपुर के कार्यालय पर संचालित किया जा रहा है जिस पर लाचार बीमार प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है।
       उक्त बातें संगठन के संस्थापक महासचिव शैलेंद्र कुमार मिश्र ने सत्याग्रह संकल्प के 52 वें दिन कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि आम नागरिकों में बेहद निंदा का विषय बना हुआ है कि आखिर जिला प्रशासन व शासन लोकहित के मुद्दे पर चल रहे क्रमिक धरने के 52 वें दिन भी लोकहित के मुद्दे को उपेक्षा का शिकार क्यों बनाया है। यह समझ से परे है। यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में लोक सेवक अपने मूल दायित्वों से विरत हैं और आम नागरिक समस्याओं के अंबार में डूबता हुआ अप्रिय घटनाओं का शिकार बन रहा है। ऐसे कुप्रशासन पर लोकों द्वारा चुनी गई लोक कल्याणकारी सरकार  कुप्रशासन का संरक्षण करने में मदमस्त है। जो लोक कल्याणकारी सरकार की मूल परिकल्पना के विपरीत है। अगर इस तरह जनहित के मुद्दे पर लोकतांत्रिक प्रक्रिया का उपहास उड़ाया जाता रहेगा, तो वो दिन दूर नहीं है कि लोकतांत्रिक व्यवस्था पर लोक की आस्था का अंत हो जाएगा और जन सामान्य लोकतांत्रिक व्यवस्था से धीरे-धीरे विरत होने लगेगी और कानून व्यवस्था का अंत हो जाएगा जो लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए शुभकर नहीं है। समय रहते कुप्रशासन, कुशासन को जनहित के मुद्दे पर मूल दायित्वों का निर्वहन करते हुए सामाजिक कार्यकर्ताओं का सम्मान कर, उत्साहवर्धन करना चाहिए ताकि लोकतांत्रिक व्यवस्था मूल स्वरूप में कायम रहे।
कार्यक्रम में प्रमुख रूप से उपस्थित संगठन के संरक्षक डा. पी.एन. भट्ट, संस्थापक महासचिव शैलेन्द्र कुमार मिश्र, अधिवक्ता गिरिजेश शुक्ला, डॉक्टर सत्य प्रकाश पाठक पूर्व उपाध्यक्ष गोरखपुर दीन दयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय, प्रदेश सचिव उ.प्र. व राष्ट्रीय संयुक्त अधिवक्ता मंच के वरिष्ठ अधिवक्ता अनुप मिश्रा, अशोक तिवारी दिवानी बार गोरखपुर, योगेन्द्र कुमार मिश्रा एडवोकेट महामंत्री जिला कलक्ट्रेट बार एसोसिएशन, हरे राम पांडे एडवोकेट उच्च न्यायालय प्रयागराज, वीरेंद्र कुमार उपाध्याय एडवोकेट, रामनिवास गुप्ता, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विपुल मिश्रा, प्रदेश आई.टी. सेल प्रभारी अमरजीत यादव, आईटी सेल सदस्य धर्मराज यादव, दुर्गेश यादव, दिनेश यादव, वरिष्ठ कार्यकर्ता जियाउद्दीन अन्सारी, वरिष्ठ वरिष्ठ अधिवक्ता राजेश शुक्ला कमिश्नरी बार गोरखपुर, अनूप कुमार मिश्रा एडवोकेट स्नेहा मिश्रा एडवोकेट दीवानी कचहरी गोरखपुर विरेन्द्र कुमार वर्मा, विरेन्द्र राय, जिला मंत्री रामचन्दर दूबे, जिला संयोजक राजमंगल गौर, जिला मीडिया प्रभारी शशी कांत, गोकुल गुप्ता जनपद कुशीनगर सूर्य देव शर्मा, सतीश कुशवाहा, अजय, जाहिद अली, मजहर उर्फ लाड़ले, नानू अंसारी, बृजराज सैनी, अमर सिंह, अजय कुमार सिंह, उमाशंकर मझवार, कमिश्नर बार के गोरखपुर शंभू सिंह श्रीनेत, दुर्ग विजय गौड़ एडवोकेट दिवानी बार गोरखपुर संजय गुप्ता, रुपेश शुक्ला, श्याम जी मद्धेशिया, महेंद्र मोहन तिवारी, सतीश मौर्या, विशाल, आदर्श, सत्येंद्र यादव, राजेश कुशवाहा, वंश गुप्ता, गोलू, वृंदावन शर्मा, सतीश चन्द्र कुशवाहा, राजकुमार यादव, राजा राम यादव और जय बहादुर इत्यादि भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!